दुर्ग जिले के अमलेश्वर में नए 132 केवी क्षमता के विद्युत उपकेंद्र की स्थापना और पाटन स्थित 132 केवी क्षमता के विद्युत उपकेंद्र की क्षमता बढ़ाकर 220 केवी करने की मंजूरी से इस क्षेत्र के नागरिकों और किसानों को  वोल्टेज की समस्या से राहत मिलेगी साथ ही क्षेत्र के विकास को एक नई गति मिलेगी। छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत नियामक आयोग द्वारा इस महीने की 1 तारीख को यह स्वीकृति प्रदान की गई ।