लॉकडाउन खत्म होने से पहले देश के सभी जिलों को तीन कैटेगरी में बांटा गया

रायपुर,(fourth eye news ) 3 मई के बाद केंद्र सरकार द्वारा लगाया गए लॉकडाउन की तारिख खत्म हो जाएगी, अब ऐसे में देखना यह होगा कि क्या इस तारीख को आगे बढ़ाया जायेगा या नहीं, और अगले फज में लोगों को किस तरह की रियायत दी जाएगी, ऐसी में संभावना जताई जा रही है कि सरकार ज्यादा छूट प्रदान कर सकती है। इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना प्रभावित राज्यों और जिलों की लिस्ट जारी की है । इस लिस्ट में छत्तीसगढ़ का रायपुर रेड और कोरबा को ऑरेंज जोन में रखा गया है। जबकि एक दिन पहले 3 पॉजिटिव केस आने के बाद भी सूरजपुर जिला ग्रीन जोन में है ।

देश के 170 जिले रेड जोन में शामिल
दरअसल, केंद्र सरकार की लिस्ट में देश के 170 जिलों को रेड जोन में रखा गया है। जहां कोरोना मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा मिली और 14 दिन के दौरान केस आए, वे रेड जाेन, जहां 14 दिन में एक भी केस नहीं हैं, वे ऑरेंज हैं। ग्रीन जोन में उन जिलों को रखा गया है, जहां कोरोना पॉजिटिव एक भी व्यक्ति नहीं मिला या फिर वहां 28 दिनों के बाद भी संक्रमण का कोई मामला सामने नहीं आया।

प्रदेश के 26 जिले ग्रीन जोन में
सूरजपुर और कोरिया में नया केस सामने आने के बाद भी लिस्ट में प्रदेश के 24 अन्य जिलों के साथ उन्हें ग्रीन जोन में रखा गया है। स्वाआस्य्भह मंत्रालय के अनुसार ग्रीन जोन ऐसे जिले या इलाके हैं जहां कोरोना का कोई भी पॉजिटिव सामने नहीं आया है। या फिर वे जिले जहां 28 दिनों से एक भी केस नहीं मिला। इन इलाकों में आवश्यवक सेवाएं और बिजनेस मूवमेंट सरकार के नियमों के आधार पर होता है।

रायपुर में 24 को जबकि सूरजपुर में 28 को सामने आया है मामला
रायपुर में 24 अप्रैल को मिला मेडिकल स्टाफ एम्स में उपचार करा रहा है। सूरजपुर में 28 अप्रैल को एक मजदूर संक्रमित मिला। उससे संपर्क में आए दो अन्य की रिपोर्ट 30 अप्रैल को पॉजिटिव आई है। एक के सैंपल की दोबारा जांच की जा रही है। इस बीच कोरिया के क्वारैंटाइन सेंटर में भी गुरुवार देर रात दो मजदूरों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है । हालांकि दोनों झारखंड भाग चुके हैं।

रेड जोन में क्या मिलेगा
केंद्र सरकार की गाइड लाइन के अनुसार, रेड जोन में होने पर सख्ती से लॉकडाउन का पालन करना होता है । यहां रह रहे लोग किसी भी काम से बाहर नहीं निकल सकते। इन क्षेत्रों में सरकार डोर-टू-डोर सुविधाएं उपलब्धट कराएगी, जिससे लोग घरों के अंदर ही रहें और संक्रमण से बचा जा सके। एहतियात के तौर पर जरूरी सेवाओं में छूट दी जाती है। हालांकि रायपुर में ग्रीन जोन की तरह ही करीब छूट दी जा चुकी है ।
प्रदेश के कारोना हॉट स्पॉट में शामिल कोरबा के कटघोरा से पिछले 14 दिनों से कोई नया पॉजिटिव सामने नहीं आया है। वहीं जो लोग भर्ती थे, वे भी दो दिन पहले ठीक होकर घर लौट चुके हैं। हालांकि नियमानुसार, लोग खेती, छोटे व मध्यलम उद्योग के तहत आने वाले सामान जैसे गेहूं का आटा, खाद्य तेल आदि के परिवहन परमिशन लेने के बाद कर सकते हैं। कुछ और चीजों में छूट दी जा सकती है।

आप भी बदल सकते हैं अपना जोन
अगर आपका जिला या इलाका रेड जोन घोष‍ित किया गया है तो वहां 14 दिन क्वारैंटाइन रहते हुए सभी नियमों का पालन करें। अगर इन 14 दिनों में कोई नया केस सामने नहीं आता है, तो उसे ऑरेंज जोन में बदल दिया जाएगा। ऐसे ही ऑरेंज जोन में रहने वाले लोग अपने इलाके में संक्रमण फैलने की आशंका को 14 दिन होम आइसोलेशन में रहकर कम कर सकते हैं। इसके बाद उसे ग्रीन जोन घोषित कर दिया जाएगा।

 

 

National Chhattisgarh  Madhyapradesh  से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें

Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें  और Youtube  पर हमें subscribe करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *