Akshaya Tritiya 2020: मंत्र, महत्व और शुभ महुर्त के बारे में जानें, गरीबों को दान से मिलेगा पुण्य

नईदिल्ली,  आज अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya 2020) का पावन पर्व है,  26 अप्रैल को देशभर में यह पर्व मनाया जा रहा है. हालांकि कोरोना वायरस के चलते देशभर में लाकडाउन है, लिहाजा लोग घरों में रहने के लिए मजबूर हैं। ऐसे में सभी को घर में रहकर ही विष्णु भगवान की अराधना करनी चाहिए।

वैसे भी कहा जाता है कि भगवान तो हमेशा भाव के भूखे होते हैं । पंचांग के अऩुसार अक्षय तृतीया बहुत ही शुभ दिन है। कहा जाता है कि इस दिन दिन कमाया गया पुण्य अक्षय रहता है ।

अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya 2020) पर भगवान विष्णु के सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिए। वहीं इस दिन सुबह सवेरे स्नान करने के बाद भगवान विष्णु को पंचामृत से स्नान कराएं । इसके बाद भगवान को जौ, सत्तू या फिर चने की दाल जो भी घर पर हो भगवान विष्णु को अर्पित करें।

पितरों की शांति के लिए अक्षया तृतीया (Akshaya Tritiya 2020) को बहुत विशेष माना जाता है। इस दिन पितरों की शांति के लिए भी गरीबों को दान किया जाता है। कहते हैं जो व्यक्ति इस दिन दान करता है। उसे अक्षय लाभ मिलता है।

भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की शंख से पूजा करें

इस दिन सुख समृद्धि और सौभाग्य की प्राप्ति के लिए शिव-पार्वती और नर नारायण की पूजा भी की जाती है। इसके साथ ही मां लक्ष्मी की पूजा करने का भी इस दिन विधान है ।

इस बार पूजा का मुहूर्त 06 बजकर 36 मिनट से दिन में 10 बजकर 42 मिनट है। इस दिन विष्णु भगवान की पूजा के साथ माता लक्ष्मी की पूजा भी फलदायी मानी गई है। इसके अलावा इस दिन भगवान विष्णु के मंत्रों का जाप भी बहुत फलदायी माना गया है।

भगवान विष्णु के मंत्र:

ॐ नमो भगवते वासुदेवाय,

श्रीकृष्ण गोविन्द हरे मुरारे। हे नाथ नारायण वासुदेवाय।।

 ॐ नारायणाय विद्महे। वासुदेवाय धीमहि।  तन्नो विष्णु प्रचोदयात्।।

ॐ विष्णवे नम ॐ हूं विष्णवे नम:

 

अक्षय तृतिया में (Akshaya Tritiya 2020) पूजा से भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी बहुत प्रसन्न होते हैं। भगवान परशुराम जयंती भी इसी दिन मनाई जाती है।

 

National Chhattisgarh  Madhyapradesh  से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें

Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें  और Youtube  पर हमें subscribe करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *