‘R भारत’ के बाद ‘दैनिक जागरण’ की प्रतियां जला रहे हैं लोग, ट्विटर पर ट्रैंडिंग #boycott_DainikJagran

नईदिल्ली, (Realtimes) लगता है इनदिनों मीडिया को ट्रोल करने का चलन चल पड़ा है, देखिए न अभी आर भारत के एडिटर इन चीफ अर्णब गोस्वामी का मामला सुप्रीमकोर्ट पहुंचा ही था कि दैनिक जागरण पर मुसीबत आ पड़ी है. और लोग दैनिक जागरण की प्रतियां जला रहे हैं, साथ ही ट्वीटर पर दो और तीन पर दैनिक जागरण के बायकॉट हैशटेग ट्रेंड कर रहा है.

दरअसल ट्वीटर पर लोग #boycott_DainikJagran, औऱ #दैनिक_जागरण_का_पूर्ण_बहिष्कार के साथ खूब पोस्ट कर रहे हैं, इसके साथ ही दैनिक जगरण की प्रतियां चलाते हुए फोटो पोस्ट कर रहे हैं, जिसकी वजह से देखते ही देखते ये दोनों हैशटैग ट्वीटर पर ट्रैंड करने लगे हैं.

क्या है मामला ?

akhilesh yadav
दैनिक जागरण की इस खबर के बाद सोशल मीडिया पर ट्रैंड करने लगा #दैनिक_जागरण_का_पूर्ण_बहिष्कार और #boycott_DainikJagran

दरअसल बताया ये जा रहा है कि दैनिक जागरण में एक खबर प्रकाशित की गई थी, जिसमें लिखा गया था कि लॉकडाउन के बाद शराब सस्ती मिल सकती है, इसके साथ ही लिखा था कि सरकार देशी-विदेशी शराब कारोबारियों को राहत दे सकती है. हालांकि यहां तक तो ठीक था, लेकिन इस खबर के साथ समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव का फोटो भी लगाया गया था. और यही वजह रही कि उनके समर्थक भड़क गए. और देखते ही देखते सोशल मीडिया पर दैनिक जागरण की कॉपियां जलाने की लोग फोटो पोस्ट करने लगे.

लोगो ने #दैनिक_जागरण_का_पूर्ण_बहिष्कार और #boycott_DainikJagran लिखकर इतनी बार पोस्ट किए कि आज यानि 24 अप्रैल को ये दोनों हैशटैग टॉप-3 में पहुंच गए.

अर्णब गोस्वामी को मिली सुप्रीमकोर्ट से राहत

इधर आज सुप्रीमकोर्ट ने आर भारत के एडिटर अर्णब गोस्वामी को राहत देते हुए, फिलहाल तीन हफ्ते तक उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगा दी है. उनके खिलाफ कई अलग अलग राज्यों में शिकायत दर्ज कराई गई है. जिसके बाद उन्होने सुप्रीमकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था.

 

National Chhattisgarh  Madhyapradesh  से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें

Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें  और Youtube  पर हमें subscribe करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *