15 जून से पहले समाप्त करें सड़कों के संधारण कार्य : मुख्यमंत्री चौहान

भोपाल.(Fourth Eye News) मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पिछले 15 वर्षों में मध्यप्रदेश की सड़कों को बेहतरीन बनाया गया है। गांव-गांव तक सड़कें पहुंचाई गई हैं। अब  अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि इन सड़कों का नियमित रूप से संधारण हो एवं समय-समय पर आवश्यक मरम्मत आदि की जाए, जिससे सड़कें खराब ना हों। उन्होने कहा कि हर हाल में 15 जून, 2020 से पहले ये कार्य समाप्त कर लिये जाएं। मुख्यमंत्री मंत्रालय में प्रदेश की सड़कों की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव मनोज श्रीवास्तव एवं संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

टेंडर आदि औपचारिकताएं पूर्ण करके रखें

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि प्रदेश में जैसे ही लॉक डाउन खुलता है, सड़कों की मरम्मत एवं संधारण के कार्य प्रारंभ किये जाएं। इसके लिए पहले से टेंडर एवं अन्य औपचारिकताएं पूर्ण करके रखी जाएं, जिससे संधारण कार्य तुरंत प्रारंभ कराया जा सके।

संधारण कार्य में धन राशि की कमी नहीं आने दी जाएगी

लोक निर्माण विभाग द्वारा बताया गया कि प्रदेश में 5954 किलोमीटर सड़कें क्षतिग्रस्त हैं, जिनमें से 4805 किलोमीटर सड़कों का संधारण करा लिया गया है। शेष सड़कों की संधारण के लिए विभाग द्वारा 80 करोड रुपए की मांग की गई है। इसमें से 29 करोड रुपए प्राप्त हो गए हैं। वर्तमान में लॉक डाउन के कारण कार्य बंद है। लेकिन लॉक डाउन खुलते ही कार्य प्रारंभ करायें जाएंगे। बताया गया कि कार्य में लेबर की समस्या नहीं आएगी क्योंकि विभाग के पास कार्य के लिये 20 हज़ार की वर्किंग टीम है। मुख्यमंत्री ने आश्वस्त किया कि संधारण कार्य के लिए धनराशि की कमी नहीं आने दी जाएगी

पूरे करने हैं 125 ब्रिज

अपर मुख्य सचिव मनोज श्रीवास्तव ने बताया कि बरसात से पूर्व 125 ब्रिज का कार्य पूरा करना है। इसके बाद 265 पुल बचेंगे, जिन्हे बारिश के बाद पूरा किया जाएगा। इसी प्रकार, मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत 1620 ग्रामों में सड़कें बनाई जानी हैं। उन्होंने बताया कि 665 ग्रामीण सड़कों के संधारण के लिए टेंडर जारी कर दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *