एमपी के इस शहर में फिर जमातियों ने मेडिकल टीम पर थूंका

भोपाल (FourthEyeNews) देश में कोरोनावायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है. जिससे सभी की चिंताएं बढ़ी हुई हैं. लेकिन दूसरी तरफ एक वर्ग लगातार अभद्रता और थूंकने की हरकत कर रहा है. जिससे इस वायरस के फैलने का खतरा बढ़ता जा रहा है.

ऐसा ही एक और मामला ग्वालियर में सामने आया है. जहां क्वारैंटाइन में रखे गए जमातियों द्वारा डॉक्टरों से अभ्रदता की गई और उनके ऊपर थूका गया. जिसकी शिकायत मेडिलक टीम ने की है, आपको बता दें कि इससे पहले भी कई जगह से ऐसी शिकायतें आई हैं.

ये खबर भी पढ़ें – कोरोना वायरस: देश में तब्लीगी जमात ने बढ़ाया खतरा, आंकड़ा 4 हजार पार

भोपाल में टोटल लॉकडाउन

इधर भोपाल में टोटल लॉकडाउन डाउन है, जिसका असर भी देखा जा रहा है। हालांकि पुराने शहर में पुलिस को नियमों का पालन कराने मशक्कत करनी पड़ रही है। भोपाल और इंदौर कलेक्टर ने नियमों का उल्लंघन करने वालों को गिरफ्तार करने के आदेश दिए हैं।

भोपाल में कोरोनावायरस के कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा बढ़ गया है। इसी वजह से कलेक्टर तरुण पिथोड़े के निर्देश पर एडीएम सतीश कुमार एस ने धारा 144 के लागू आदेश में संशोधन कर दिया। नया आदेश के मुताबिक, नियमों का उल्लंघन करने पर गिरफ्तारी की जाएगी। सोमवार से सिर्फ मेडिकल स्टोर, दूध पार्लर और होम डिलीवरी की सुविधा चालू रहेगी।

विदिशा में भी मिला एक पॉजिटिव

जिले की सिरोंज तहसील में असम से आए एक जमाती की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बताया जा रहा है कि असम से 10 लोगों की जमात निजामुद्दीन की मरकज होते हुए यहां पहुंची थी। इन सभी लोगों को एक निजी स्कूल में क्वारैंटाइन कर दिया गया है। 9 जमातियों की रिपोर्ट नहीं आई है। पॉजिटिव मरीज को सिरोंज के सरकारी अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया। सिरोंज में कर्फ्यू लगा दिया गया है। ये जमाती करीब दस दिन से शहर में हैं। पांच दिन पहले सभी को एक स्कूल में क्वारैंटाइन किया गया था। इससे पहले इन जमातियों ने पूरे शहर में धार्मिक प्रचार किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *