राजधानी की खूबसूरत फोटो शेयर करते हुए सीेएम भूपेश बघेल ने लिखा ‘ये खामोशी, ये सन्नाटा, ये रुका हुआ शहर…’

रायपुर: (Fourth Eye News), पूरे देश में कोरोना के कहर के चलते लॉकडाउन है, दुनिया की सबसे बड़ी आबादी आज घरों में कैद रहने के लिए मजबूर है. छत्तीसगढ़ में भी लोग इस लॉकडाउन को समर्थन दे रहे हैं. धीरे-धीरे लोग कोरोना वायरस के संक्रमण और सरकार द्वारा लगाई गई पाबंदियों का समर्थन करने लगे हैं.

सरकार भी अपने स्तर से एक तरफ कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की खोज और उनका इलाज का जिम्मा उठा रही है. तो दूसरी तरफ इस लॉकडाउन के दौरान आम लोगों को परेशानी न हो इसका भी खयाल रखा जा रहा है.

ये खबर भी पढ़ें – लॉक डाउन का उल्लंघन एवं विदेश यात्रा की जानकारी छिपाने पर 20 अपराध दर्ज

यही वजह है कि फिलहाल छत्तीसगढ़ में स्थियां काबू में हैं और पिछले दो दिनों से कोई भी कोरोना वायरस से संक्रमित मामला सामने नहीं आया है, हालांकि फिलहाल छत्तीसगढ़ में 289 संदिग्धों के सेंपल ही लिए गए हैं. ये सेंपल उन्हीं लोगों के लिए गए हैं, जिनमें कोरोना के लक्षण दिखाई दिये. और इनमें से भी 283 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है.

ये खबर भी पढ़ें – कोरोना वायरस: देश में संक्रमित मरीजों की संख्या 900 के करीब, 20 की मौत

इधर सीएम भूपेश बघेल भी लॉकडाउन के दौरान सोशल मीडिया के माध्यम से लगातार लोगों से बात कर रहे हैं और उन्हें भरोसा देने की कोशिश कर रहे हैं कि सरकार इस संकट की घड़ी में उनके साथ खड़ी है.

इसी दौरान सीएम भूपेश बघेल ने अपने ट्वीटर एकाउंट पर राजधानी रायपुर का रात्री के दो फोटो शेयर किये  हैं जिसपर उन्होने लिखा है

“ये खामोशी, ये सन्नाटा, ये रुका हुआ शहर सह लेंगे कुछ दिन और, बस थमे अब ये कहर #LockDown”

 

 

वैसे आज लॉकडाउन का चौथा दिन है और प्रदेश की जनता जिस तरह से कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी उससे ये तो साफ है कि कोरोना वायरस कम से कम छत्तीसगढ़ और भारत देश के भरोसे को तो नहीं डिगा पाएगा.

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *