कमलनाथ सरकार गिराने के बाद उन्हीं के घर पहुंच गए शिवराज

भोपाल. (Fourth Eye News), सियासत में नेता अक्सर कई तरह के हथकंडे अपनाते हैं, ऐसे ही हथकंडे हमने हाल ही मध्यप्रदेश में भी देखे, जहां 15 साल बाद बनी कांग्रेस की सरकार महज 15 महीनों में ही गिर गई, इसके बाद  मध्य प्रदेश के पूर्व एवं भावी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वही किया जैसी उनकी छवि है.

सरकार गिरने के बाद शिवराज ने अपने विरोधी और निवर्तमान मुख्यमंत्री कमलनाथ के घर जाकर उनसे मुलाकात की । दिलचस्प बात यह है कि शिवराज के नेतृत्व में ही बीजेपी ने न केवल प्रदेश कांग्रेस पार्टी में बड़ा सेंध लगाकर ज्योतिरादित्य सिंधिया को तोड़ लिया, बल्कि कमलनाथ की सरकार भी गिरा दी।

भोपाल : एसिड अटैक में जान गंवाने वाली युवती का भाई भी घर से लापता

कमलनाथ ने अपनी सरकार बचाने की आखिरी कोशिशों में असफल होने के बाद शुक्रवार को इस्तीफा दे दिया। उन्हें बीते कुछ दिनों से जारी नाटकीय घटनाक्रम में बीजेपी की रणनीति के सामने घुटने टेकने पड़े और बहुमत परीक्षण से पहले ही सत्ता छोड़नी पड़ी। उन्होंने राज्यपाल लालजी टंडन को मुख्यपंत्री पद से इस्तीफे का पत्र सौंपा । इधर, शिवराज मध्य प्रदेश के मुख्यंत्री की कुर्सी कमलनाथ से छीनने के बाद उनके घर पहुंच गए। वह कमलनाथ के घर कुछ देर रुके, बातचीत की और फिर निकल गए। गौरतलब है कि कमलनाथ अब मध्य प्रदेश के केयरटेकर सीएम हैं। अब बीजेपी विधायक दल की बैठक में नए नेता का चयन होगा जिन्हें प्रदेश के मुख्यमंत्री का पद मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *