दिल्ली हिंसाः  संसद में केंद्र को घेरने को तैयार विपक्ष, अमित शाह के इस्तीफे की मांग

नईदिल्ली,(Fourth Eye News) संसद का बजट सत्र का दूसरा चरण आज से शुरू होने जा रहा है. जिसके हंगामेदार होने के पूरे आसार हैं,  दिल्ली में हुए सांप्रदायिक दंगे के मुद्दे पर विपक्षी पार्टियां ने संसद में सरकार के घेरने की तैयारी कर चुकी हैं. विपक्षी पार्टियों ने इस इस मुद्दे पर चर्चा के लिए नोटिस भी दिया है ।

दरअसल, सोमवार को बजट सत्र के शेष हिस्से की शुरुआत होगी। विपक्ष की तैयारियों के बीच संसदीय कार्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि हम मसले पर चर्चा को तैयार हैं, लेकिन अभी बजट पारित कराने को प्राथमिकता दी जानी चाहिए क्योंकि यह संवैधानिक जिम्मेदारी है। बता दें कि उत्तर-पूर्व दिल्ली में हुए हिंसा में 40 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है और कई घायलों का अभी भी अस्पताल में इलाज चल रहा है।

शाह के इस्तीफा मांगेगा विपक्ष

कांग्रेस के साथ विपक्षी पार्टियों ने गृह मंत्री अमित शाह का इस्तीफा मांगने को लेकर कमर कस ली है। लोकसभा में कांग्रेस विपक्षी दलों का नेतृत्व करेगी। लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने रविवार को कहा कि दिल्ली में हुए दंगे के मुद्दे को मजबूती से उठाएगी और हिंसा की वजह पूछेगी।

राज्यसभा में भी हंगामे के आसार

वहीं, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद सरकार पर हमले के लिए उन सभी पार्टियों को एकसाथ लाने की कोशिश करेंगे जो दिल्ली हिंसा को लेकर समान राय रखते हैं। सूत्रों ने बताया कि टीएमसी, सीपीआई और सीपीएम भी लोकसभा और राज्यसभा में यह मुद्दा उठाएगी

राष्ट्रपति से मिल चुका है कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल

विपक्षी पार्टियों का हमला उस वक्त से तेज हो गया है जब सोनिया गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की थी और उनसे अपील की थी कि ‘राजधर्म का पालन’ न करने के लिए गृह मंत्री अमित शाह का इस्तीफा लिया जाए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *